अंकिता हत्याकाण्ड में कोताही बरतने पर पटवारी वैभव प्रताप निलंबित

Share News

@ पौड़ी उत्तराखंड 

अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में कोताही बरतने और दूसरे को चार्ज थमाकर अवकाश पर गए पटवारी वैभव प्रताप को निलंबित कर दिया गया है। पौड़ी डीएम विजय कुमार जोगदंडे ने उदयपुर पल्ला 2 के पटवारी वैभव प्रताप सिंह को यमकेश्वर एसडीएम की रिपोर्ट मिलने के बाद यह कार्रवाई की है।

साथ ही इस मामले की जांच लैंसडाउन एसडीएम को सौंपी है। अंकिता भंडारी मर्डर केस में यमकेश्वर तहसील के उदयपुर पल्ला 2 का पटवारी वैभव प्रताप घटना के बाद से ही अवकाश पर चल रहा था।

पटवारी की भूमिका पर सभी को संदेह हो रहा था। जबकि, वैभव प्रताप के अवकाश पर जाने के बाद पास के क्षेत्र से कांडाखाल चौकी के पटवारी विवेक कुमार को 20 सितंबर को चार्ज दिया गया था। डीएम जोगदंडे ने पटवारी विवेक को तत्काल निलंबित कर दिया था। वहीं, इस कांडाखाल चौकी के पटवारी वैभव प्रताप  की भूमिका भी संदेह के घेरे में थी। जो कि सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहा था।

इतना ही नहीं अंकिता के परिजन और विपक्षी दल भी पटवारी के अचानक अवकाश पर जाने की बात पर उसे घेर रहे थे। जिस पर डीएम ने अब उदयपुर पल्ला 2 के पटवारी वैभव प्रताप को भी निलंबित कर दिया है। साथ ही इस मामले की जांच भी एसडीएम लैंसडाउन को सौंप दी है। साथ ही डीएम ने एसडीएम को तत्काल मामले की जांच कर रिपोर्ट तबल की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...