बच्चों के व्यक्तित्व विकास के लिए उनमें खेलों के प्रति दिलचस्पी होना जरूरी : शकुन्तला रावत

Share News

@ जयपुर राजस्थान

उद्योग मंत्री शकुन्तला रावत ने कहा कि बच्चों के व्यक्तित्व विकास के लिए उनमें खेलों के प्रति दिलचस्पी होना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन शिक्षा के चलते बच्चे परंपरागत खेलों से दूर होते जा रहे हैं। ऐसे में अभिरूचि शिविर जैसी पहल सकारात्मक परिणाम दे सकती है।रावत शनिवार को पिंकसिटी प्रेस क्लब में चल रहे बाल अभिरूचि शिविर में शिरकत कर रही थी।
 
उन्होंने इस दौरान अभिनय, पाश्चात्य नृत्य, सूर्य नमस्कार, शिव स्रोत पर योग, मार्शल आर्ट सहित अनेक प्रस्तुतियां देखी।उन्होंने कविता के माध्यम से बच्चों का हौसला बढ़ाया और उन्हें शिविरों के माध्यम से सकारात्मक गतिविधियों से जोड़ने पर भी जोर दिया। उन्होंने बच्चों को मोबाइल का कम उपयोग करने एवं स्वाध्याय के लिए भी प्रेरित किया।
 
कार्यक्रम के दौरान जादूगर नन्दकिशोर मण्दौरिया ने जादुई अंदाज में उद्योग मंत्री का स्वागत किया।प्रेस क्लब अध्यक्ष मुकेश मीणा ने मुख्य अतिथि रावत का अभिनन्दन करते हुए शिविर के बारे में जानकारी दी।इस अवसर पर क्लब अध्यक्ष, महासचिव रघुवीर जांगिड़, कोषाध्यक्ष राहुल गौतम एवं संयोजक अनिता शर्मा एवं प्रबन्ध कार्यकारिणी ने रावत का पुष्पगुच्छ एवं माल्यार्पण कर स्वागत किया। 
 
क्लब महासचिव रघुवीर जांगिड ने कहा कि जादूगर नन्दकिशोर मन्दौरिया ने अपने तिलिस्मी जादू से बच्चों को अनेक जादुई कारनामे दिखाए। इस दौरान बच्चों ने अपने अभिभावकों के साथ क्लब सभागार में जादुई शो देखा। जादूगर ने पानी से फूल, कबूतर से गुलदस्ता, वाटर ऑफ इण्डिया, आंखों पर पट्टी बांधकर बच्चों को मंत्रमुग्ध कर दिया। 
 
इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष नीरज मेहरा कार्यकारिणी सदस्य राहुल भारद्वाज, पुष्पेन्द्र सिंह राजावत, महेश पारीक, विकास आर्य, आयोजन समिति सदस्य सुरेश शर्मा, हरी सिंह चौहान, दिनेश जोशी, विष्णु कुमार सोनी, जितेन्द्र प्रधान, राजेन्द्र राव, राजेन्द्र शर्मा, प्रदीप शेखावत, विमल सिंह तंवर सहित पत्रकारगण एवं अभिभावकगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...