भारत ने पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में तीन मैच की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली

Share News

@ नई दिल्ली

हार्दिक पंड्या ने बल्ले से कमाल करने के बाद गेंद से धमाल किया जिससे भारत ने पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में गुरुवार को यहां इंग्लैंड को 50 रन से हराकर तीन मैच की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली।

भारत ने हार्दिक (33 गेंद में छह चौकों और एक छक्के से 51 रन) के करियर के पहले अर्धशतक से आठ विकेट पर 198 रन बनाए। उन्होंने सूर्यकुमार यादव (39) के साथ चौथे विकेट के लिए 37 और अक्षर पटेल (17) के साथ पांचवें विकेट के लिए 45 रन की साझेदारी की। सूर्यकुमार ने दीपक हुड्डा (33) के साथ भी तीसरे विकेट के लिए 43 रन जोड़े।

इंग्लैंड की ओर से क्रिस जॉर्डन सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने चार ओवर में 23 रन देकर दो विकेट चटकाए। मोईन अली ने उनका अच्छा साथ निभाते हुए दो ओवर में 26 रन देकर दो विकेट हासिल किए।इंग्लैंड की टीम इसके जवाब में हार्दिक (33 रन पर चार विकेट) के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के सामने मोईन अली (36) और हैरी ब्रूक (28) की उम्दा पारियों के बावजूद 19.3 ओवर में 148 रन पर ढेर हो गई। पदार्पण कर रहे अर्शदीप सिंह (18 रन पर दो विकेट) और युजवेंद्र चहल (32 रन देकर दो विकेट) ने हार्दिक का अच्छा साथ निभाते हुए दो-दो विकेट चटकाए।

इंग्लैंड पर दबदबा बनाने के बावजूद क्षेत्ररक्षण भारत की चिंता बनकर उभरा क्योंकि टीम ने कम से कम पांच कैच टपकाए।हार्दिक इस दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में अर्धशतक जड़ने के साथ चार विकेट चटकाने वाले सिर्फ 12वें क्रिकेटर बने। आईसीसी के पूर्ण सदस्य देशों में वह यह उपलब्धि हासिल करने वाले सिर्फ पांचवें क्रिकेटर हैं। उनसे पहले वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो, आस्ट्रेलिया के शेन वाटसन, अफगानिस्तान के समीउल्लाह शिनवारी और पाकिस्तान के मोहम्मद हफीज ने यह कारनाम किया है।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे इंग्लैंड की शुरुआत बेहद खराब रही। टीम ने पहले ही ओवर में कप्तान जोस बटलर (00) का विकेट गंवा दिया जिन्हें भुवनेश्वर कुमार ने बोल्ड किया।डेविड मलान ने तीसरे ओवर में भुवनेश्वर पर पारी का पहला चौका जड़ा और फिर तेज गेंदबाज अर्शदीप पर लगातार दो चौके मारे।मलान ने हार्दिक की पहली गेंद पर चौका मारा लेकिन अगली गेंद को विकेटों पर खेल गए। उन्होंने 14 गेंद में चार चौकों से 21 रन बनाए।

हार्दिक के इसी ओवर में लियाम लिविंगस्टोन (00) भी रचनात्मक शॉट खेलने की कोशिश में विकेटकीपर दिनेश कार्तिक को आसान कैच दे बैठे जिससे इंग्लैंड का स्कोर तीन विकेट पर 29 रन हो गया।इंग्लैंड की टीम पावर प्ले में तीन विकेट पर 32 रन ही बना सकी।सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय भी 16 गेंद में चार रन बनाने के बाद हार्दिक की गेंद को हर्षल पटेल के हाथों में खेल गए।

मोईन ने हर्षल पर चौके और फिर एक रन के साथ आठवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया। ब्रूक हालांकि इसी ओवर में भाग्यशाली रहे जब कार्तिक ने उनका कैच टपका दिया।मोईन भी 18 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब सूर्यकुमार उनका कैप लपकने में नाकाम रहे।मोईन ने अक्षर की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन चहल ने अगले ओवर में उन्हें और ब्रूक को आउट करके इंग्लैंड की जीत की उम्मीदों को तोड़ दिया।

ब्रूक को सूर्यकुमार के हाथों कैच कराने के बाद चहल ने मोईन को कार्तिक के हाथों स्टंप कराया। मोईन ने 20 गेंद की पारी में चार चौके और दो छक्के मारे जबकि ब्रूक ने 23 गेंद का सामना करते हुए दो चौके और एक छक्का जड़ा।हार्दिक की गेंद पर कार्तिक ने जॉर्डन का कैच टपकाया लेकिन सैम कुरेन (04) का कैच पकड़कर इंग्लैंड को सातवां झटका दिया।चहल ने अपनी गेंद पर जॉर्डन को दूसरा जीवनदान दिया जबकि हुड्डा ने इसी ओवर में टाइमल मिल्स का कैच छोड़ा।

इंग्लैंड को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 84 रन की दरकार थी और टीम इस लक्ष्य के आसपास भी नहीं पहुंच सकी।कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के कारण इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट से बाहर रहे भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। रोहित ने सैम कुरेन के पहले ओवर में चौका जड़ने के बाद रीस टॉपली (34 रन पर एक विकेट) के अगले ओवर में लगातार दो चौके मारे।

भारतीय कप्तान ने मोईन अली का स्वागत भी लगातार दो चौकों से किया लेकिन इस आफ स्पिनर की अगली गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच दे बैठे। रोहित ने 14 गेंद में पांच चौकों से 24 रन बनाए।दीपक हुड्डा (33) ने मोईन पर लगातार दो छक्कों के साथ खाता खोला लेकिन सलामी बल्लेबाज इशान किशन (08) इस आफ स्पिनर की गेंद को हवा में खेलकर शॉर्ट फाइन लेग पर मैट पार्किंसन को कैच दे बैठे।हुड्डा ने टॉपली के अगले ओवर में भी तीन चौके मारे जिससे भारत ने पावर प्ले में दो विकेट पर 66 रन बनाए।

सूर्यकुमार ने मोईन पर चौके से खाता खोला और फिर टाइमल मिल्स (35 रन पर एक विकेट) की गेंद को दर्शकों के बीच पहुंचाया। उन्होंने लेग स्पिनर मैट पार्किंसन (44 रन पर एक विकेट)पर भी दो चौके मारे।हुड्डा हालांकि जॉर्डन की गेंद पर मिल्स को कैच देकर पवेलियन लौट गए। उन्होंने 17 गेंद की अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के मारे।हार्दिक ने पार्किंसन पर दो चौकों के साथ 10वें ओवर में भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया।

सूर्यकुमार ने हार्दिक के साथ मिलकर रन गति को बरकरार रखा। उन्होंने मिल्स पर अपना दूसरा छक्का जड़ा।सूर्यकुमार जॉर्डन की उछाल लेती गेंद पर विकेटकीपर बटलर को कैच दे बैठे। उन्होंने 19 गेंद की अपनी पारी में चार चौके ओर दो छक्के मारे।सूर्यकुमार टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जॉर्डन का 82वां शिकार बने जिससे वह इस प्रारूप में इंग्लैंड के सबसे सफल गेंदबाज बन गए।

हार्दिक 37 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब बटलर ने पार्किंसन की गेंद पर उन्हें स्टंप करने का मौका गंवा दिया। पार्किंसन ने अक्षर पटेल को रॉय के हाथों कैच कराके भारत को पांचवां झटका दिया।हार्दिक ने पार्किंसन पर छक्के और फिर एक रन के साथ सिर्फ 30 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। हार्दिक हालांकि इसके बाद टॉपली की गेंद पर हैरी ब्रूक को कैच दे बैठे।भारतीय टीम अंतिम तीन ओवर में 20 रन ही जोड़ सकी। (भाषा) 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...