भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिये दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ‘करो या मरो’ का मुकाबला

Share News

@ नई दिल्ली

लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रही भारतीय टीम महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिये रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ‘करो या मरो’ का मुकाबला खेलेगी ।

अब तक 2017 की उपविजेता भारतीय टीम अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सकी है । तीन जीत और तीन हार के बाद वह छह अंक लेकर पांचवें स्थान पर है और अब उसे आखिरी लीग मैच हर हालत में जीतना होगा ।दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के बीच मैच बारिश के कारण धुलने से भारत की उम्मीदों को और झटका लगा ।

दक्षिण अफ्रीका सात अंक लेकर उससे ऊपर निकल गया है ।रविवार का मैच जीतने से भारत अंतिम चार में पहुंच जायेगा क्योंकि उसका नेट रनरेट प्लस 0.768 है और वेस्टइंडीज का माइनस 0.890 है ।

यह मैच हारने पर भारतीय टीम एक ही सूरत में सेमीफाइनल में पहुंच सकती है कि इंग्लैंड अपना आखिरी लीग मैच बांग्लादेश से हार जाये लेकिन ऐसा होना संभव नहीं दिखता ।पिछले दो मैच जीत चुकी भारतीय टीम इस लय को कायम रखने के इरादे से उतरेगी । बांग्लादेश के खिलाफ 110 रन से मिली जीत में भी भारतीय बल्लेबाज एक ईकाई के रूप में नहीं खेल सके । कप्तान मिताली राज बखूबी जानती है कि दक्षिण अफ्रीका की दमदार गेंदबाजी के खिलाफ उन्हें इसमें सुधार करना होगा ।

बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने मैच से पूर्व प्रेस कांफ्रेंस में कहा कल का मैच अहम है और यह सभी को पता है । हमारे सभी खिलाड़ी अपना शत प्रतिशत देने को तैयार है । हमें साझेदारियां बनाकर एक दूसरे का साथ देना होगा ।उन्होंने कहा हमें एक ईकाई के रूप में अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी । गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण अच्छा रहा है । एक टीम के रूप में हमने अच्छा प्रदर्शन किया है ।

कप्तान मिताली टूर्नामेंट में चार पारियों में दोहरे अंक तक नहीं पहुंच सकी । भारत अगर सेमीफाइनल में नहीं पहुंचता है तो यह उनका आखिरी मैच हो सकता है और उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी ।

वहीं वेस्टइंडीज के खिलाफ शतक को छोड़कर स्मृति मंधाना भी कुछ खास नहीं कर सकी हैं ।शेफाली ने बांग्लादेश के खिलाफ रन बनाये जबकि यस्तिका भाटिया ने तीसरे नंबर पर अच्छा प्रदर्शन किया है । बल्लेबाजी में हरमनप्रीत कौर और हरफनमौला पूजा वस्त्राकर तथा स्नेह राणा लगातार अच्छा खेलते आये हैं ।

गेंदबाजों ने कई मौकों पर निराश किया लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ प्रदर्शन अच्छा था । तेज गेंदबाज मेघना सिंह की बजाय स्पिनर पूनम यादव को उतारने का फैसला भी सही साबित हुआ ।अब देखना यह है कि भारत दो तेज गेंदबाजों और तीन स्पिनरों को लेकर ही उतरता है या इसमें बदलाव होगा ।दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका की टीम सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई कर चुकी है । वह तालिका में आस्ट्रेलिया के बाद दूसरे स्थान पर है ।(भाषा) 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...