डिजिटलीकरण से निपटने के लिए नियामकों को उन्नतशील होना चाहिए : निर्मला सीतारमण

Share News

@ नई दिल्ली

केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि नियामकों और अन्य संस्थाओं को डिजिटलीकरण की प्रक्रिया को समझने में अधिक उन्नत और वक्त से आगे होना चाहिए।उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी का दुरुपयोग रोकने के लिए ऐसा करना जरूरी है।

वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालयों के प्रभारी सीतारमण ने डिजिटलीकरण के संदर्भ में सुरक्षा तंत्र की जरूरत पर भी जोर दिया।उन्होंने कहा कि 2020 और उसके बाद के दशकों में डिजिटल तरीकों का महत्व बढ़ता जाएगा।सीतारमण आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के प्रतिष्ठित दिवस समारोह में बोल रही थीं।

उन्होंने कहा कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग और राष्ट्रीय वित्तीय रिपोर्टिंग प्राधिकरण को डिजिटलीकरण के लिहाज से वक्त से आगे रहना चाहिए, ताकि निष्पक्ष और जवाबदेह प्रथाओं को सुनिश्चित किया जा सके और प्रौद्योगिकी का दुरुपयोग न हो।

कॉरपोरेट मामलों के सचिव राजेश वर्मा ने कहा कि मंत्रालय अनुपालन प्रबंधन सहित विभिन्न उपायों को लागू करेगा। उन्होंने कारोबारी सुगमता के लिए प्रौद्योगिकी आधारित मंचों पर जोर दिया।कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। (भाषा) 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...