दिल्ली में पांच साल में स्कूल और अस्पताल ठीक हो गए,तो देश भर में भी ठीक हो सकते हैं : अरविंद केजरीवाल

Share News

@ नई दिल्ली

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहीद भगत सिंह के जन्म दिवस पर ब्लड डोनेशन कैंप की शुरूआत की। इस अवसर पर दिल्ली में 73 जगहों पर रक्तदान शिविर लगाए गए, जहां लोगों में भारी उत्साह देखा गया।
 
अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शहीद भगत सिंह 23 साल की उम्र में फांसी पर लटक गए। तब से लेकर आज तक उन्होंने युवाओं को खूब प्रेरित किया। हम लोगों ने पहली बार ब्लड डोनेशन कैंप से शहीद भगत सिंह का जन्म दिवस मनाने की शुरूआत की है। हम लोगों को इस तरह का कैंपेने चलाना चाहिए जिससे कि लगातार पूरे साल लोग रक्तदान के लिए प्रेरित होते रहें।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर हमने अगले पांच साल में शिक्षा व स्वास्थ्य को अच्छा कर दिया, तो नेताओं की जरूरत नहीं पड़ेगी। लोग ही अपने देश को बहुत आगे ले जाएंगे। दिल्ली में पांच साल में स्कूल और अस्पताल ठीक हो गए, तो देश भर में भी ठीक हो सकते हैं। हम सब 130 करोड़ भारतीयों को एक साथ मिलकर भगत सिंह के सपनों का भारत बनाना है और भारत को दुनिया का नंबर-1 देश बनाना है।
 
दिल्ली के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के ऑडिटोरियम में शहीद भगत सिंह के जन्म दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीएम अरविंद केजरीवाल ने दीप जलाकर इसकी विधिवत शुरुआत की।
 
इस अवसर पर दिल्ली सरकार की तरफ से पूरी दिल्ली में मेगा ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया। स्टेट ब्लड सेल की सीमा कपूर ने ब्लड डोनेशन कैंप अभियान का संक्षिप्त परिचय दिया। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, विधायक आतिशी, स्वास्थ्य सचिव अमित सिंगला समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...