हिसार एयर पोर्ट पर रनवे बनाने का कार्य शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा : मुख्यमंत्री

Share News

@ चंडीगढ़ हरियाणा

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वैज्ञानिकों द्वारा पशुपालन, विशेषकर भैंसों की नई-नई किस्में तैयार करने के क्षेत्र में किए जा रहे नए-नए शोध कार्यों से देश और प्रदेश के पशु पालकों और किसानों को लाभ पहुंच रहा है।

मुख्यमंत्री हिसार में एक प्रैस वार्ता को संबोधित कर रहे थे ।उन्होंने कहा वैज्ञानिकों द्वारा गत 6-7 वर्षों से क्लोनिंग और दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए बड़े पैमाने पर अनुसंधान किए और उसमें उन्हें सफलता भी मिली है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों से आग्रह गया है कि इस प्रयोग को लैब से बाहर पब्लिक के लिए शुरू किया जाए ताकि लोगों, विशेषकर पशुपालक और किसान भैंसों से अधिक से अधिक दूध प्राप्त कर सकें। इससे श्वेत क्रांति को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ पशुपालकों की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी।

हिसार एयर पोर्ट पर रनवे बनाने के संबंध में पूछे गए एक प्रश्न का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हिसार एयर पोर्ट पर रनवे बनाने का कार्य शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद फलाईट का शैडयूल तैयार होगा। एयरपोर्ट पर पायलेट का प्रशिक्षण, एरोनोटिक्स के प्रोजेक्ट के अलावा डिफेंस के प्रोजेक्ट शुरू किए जाएंगे। उन्होंने एयरपोर्ट एलिवेटिड रोड के लिए फिजिबलिटी जांच की जा रही है। इसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा। पिछले तीन साल से वित मंत्री होने के नाते स्वंय बजट पेश कर रहे हैं। प्रमुख रूप से लोगों को बजट के बिन्दुओं के बारे में अवगत करवाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया। उन्होंने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत कार्यक्रमों की कड़ी में दास्तान ए रोहनात नाटक का आयोजन किया गया।

इसमें 1857 की कहानी का मार्मिक मंचन किया गया जो 167 साल पहले की कहानी थी। रोहणात के 500 लोगों ने भाग लिया। रोहणात के लिए घोषणा की गई जिसमें जमीन लेकर एकेडमी बनाई जाएगी, मार्शल आर्ट, स्मारक आदि बनाया जाएगा। लोगों के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए एक करोड रुपए की राशि से रोहणात ट्स्ट बनाई गई है। उन्होंने कहा कि मंगाली गौशाला में लगभग 50 करोड़ रुपए की घोषणा की गई है जिससे 12 विकास परियोजनाओं को नलवा हलके की पूरी की जाएगी। 

मुख्यमंत्री ने एक अन्य प्रश्न के  उत्तर में कहा कि खिलाड़ियों के लिए ए से सी श्रेणी की नौकरियों में 3 प्रतिशत कोटा तय नहीं है। सरकार की पदक लाओ पद पाओ की नीति के तहत खिलाड़ी अधिक नौकरियां भी पा सकते हैं। उन्होंने कहा कि डी ग्रुप में ग्रेडेशन सर्टिफिकेट में कुछ शिकायतें आ रही थी इसलिए उन्हें खत्म करने के लिए उपलब्धियों के आधार पर नौकरियां देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि लोगों को बेहतर स्वास्थ लाभ देने के लिए हर जिले में मेडिकल कालेज बनाए जा रहे है। इस साल भी चार मेडिकल कालेज खोलने की घोषणा की गई है। इनमें पंचकूला, फतेहाबाद, चरखीदादरी व पलवल शामिल है। उन्होंने कहा कि एमबीबीएस के लिए सरकारी नौकरियों में बांड लिया जाता है वह लेना अनिवार्य किया गया है।  

एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि हम इस बात के पक्षधर हैं कि निकाय चुनावों में महिलाओं को बराबर का प्रतिनिधित्व दिया जाए लेकिन इसे चैलेंज किया गया। इसकी 29 मार्च को न्यायालय में सुनवाई है। इस पर निर्णय आ जाएगा। इसके अलावा फसल सीजन भी समाप्त हो जाएगा और शीघ्र ही चुनाव करवाए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...