इलेक्ट्रॉनिक राष्ट्र के रूप में स्थापित हो रहा है भारत : राजीव चन्द्रशेखर

Share News

@ भोपाल मध्यप्रदेश

केन्द्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता राज्य मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने ग्रामीण जनजातीय तकनीकी प्रशिक्षण के द्वितीय सत्र में प्रशिक्षणार्थियों को नई दिल्ली से वर्चुअली संबोधित किया।राज्य मंत्री चन्द्रशेखर ने क्रिस्प की कार्य-प्रणाली की प्रशंसा करते हुए उन्हें बधाई दी।

उन्होंने कहा कि कोविड के बाद इलेक्ट्रॉनिक वेल्यू और उत्पादन पर विश्व में गहरा प्रभाव पड़ा है।भारत एक इलेक्ट्रॉनिक राष्ट्र के रूप में तेजी से विश्व पटल पर अपना स्थान बना रहा है।वर्ष 2014 में भारत में एक लाख करोड़ रूपये मूल्य की इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं का उत्पादन हो रहा था, जो आज बढ़कर 6 लाख करोड़ पहुँच चुका है।

जनजातीय पाठ्यक्रम-प्रयोगशाला का शुभारंभ

केन्द्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय के विशेष सचिव अतुल तिवारी ने आज क्रिस्प में ग्रामीण जनजातीय तकनीशियन प्रशिक्षण की प्रयोगशाला का शुभारंभ किया।तिवारी और राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वेदमणि तिवारी ने प्रशिक्षण पाठ्यक्रम का विमोचन भी किया।अतुल तिवारी और वेदमणि तिवारी ने गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान आदि राज्यों से प्रशिक्षण के लिये आए विद्यार्थियों से संवाद भी किया।

उन्होंने क्रिस्प में चल रहे डीआरडीओ वैज्ञानिकों के हायड्रोलिक्स प्रशिक्षण का भी निरीक्षण किया। तिवारी ने कहा कि प्रशिक्षण के बाद विद्यार्थी को अपने गाँव से दूर नहीं जाना पड़ेगा।वह अपने गाँव में जाकर इस हुनर द्वारा आय अर्जित कर सकते हैं। तिवारी ने एयर कंडिश्नर, फ्रिज, वॉशिंग मशीन आदि इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से संबंधित प्रशिक्षण के उपकरणों का जायजा भी लिया। क्रिस्प के प्रबंध संचालक डॉ. कांत पाटिल और संचालक अमोल वैद्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...