कश्मीरी हिंदुओं को केजरीवाल सरकार प्रवासी मानने से भी कर रही है इंकार : आदेश गुप्ता

Share News

@ नई दिल्ली

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में रह रहे सभी कश्मीरी हिंदू आज अपना दर्द बयान कर रहे हैं कि इतने दिनों से दिल्ली में रहने के बावजूद आज केजरीवाल सरकार उन्हें प्रवासी मानने से इंकार कर रही है, उन्हें नौकरी नहीं दी है और एमसीडी एवं एनडीएमसी द्वारा कश्मीरी पंडितों को दुकानें खोलने की जो अनुमति दी गई थी।

उन दुकानों में आज तक बिजली कनेक्शन नहीं लगाए गए क्योंकि इन दुकानों में बिजली कनेक्शन के नाम पर केजरीवाल सरकार द्वारा 40 से 50 लाख रुपयों की मांग की जा रही है। केजरीवाल सरकार के खिलाफ जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रही कश्मीरी पंडित फेडरेशन को संबोधित करते हुए गुप्ता ने कहा कि विधानसभा में कश्मीरी पंडितों के साथ हुए इतने बड़े नरसंहार को झूठ बताने वाले केजरीवाल को देश के सभी हिंदुओं और खासकर कश्मीरी पंडितों से माफी मांगनी चाहिए।

आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल हिंदुओं के लिए जिस भाषा का प्रयोग कर रहे हैं वह उनकी मानसिक दिवालियापन को दर्शाता है। पिछले सात सालों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार द्वारा कश्मीर में जो विकास हुआ है, वह भारत की आजादी के 60 सालों में भी नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि चार राज्यों में भाजपा की जीत के बाद हार से बौखलाए केजरीवाल उल्टा सीधा बयान दे रहे हैं। एक विशेष समुदाय के वोट बैंक के लिए कश्मीरी हिंदुओं सहित पूरे देश के हिंदुओं के बारे में अपमानजनक बातें कह रहे हैं।

आदेश गुप्ता ने कहा कि जिस तरह से कश्मीर में हुए पंडितों के साथ अन्याय, नरसंहार की सच्चाई बयान करने वाली फिल्म को झूठी फिल्म करार कर इसको टैक्स फ्री करने से केजरीवाल ने इंकार किया, उससे उनकी मंशा जाहिर होती है कि वह किस तरह की राजनीति करते हैं।

उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में रहने वाले कश्मीरी पंडितों का जंतर-मंतर पर आने की जरुरत सिर्फ इसलिए पड़ गई क्योंकि 32 साल पहले हुए उनके साथ अन्याय और नरसंहार को केजरीवाल द्वारा उसे झूठा बताना, उन सभी कश्मीरी पंडितों के साथ हुए बर्बरता का मजाक बनाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...