महिला बंदी ने आश्रय गृह में की आत्महत्या

Share News

@ कानपुर उत्तरप्रदेश 

राज्य संचालित आश्रय गृह में चोरी के मामले में मुख्य संदिग्ध के तौर पर बंद एक युवती ने सोमवार को बाथरूम में फंदा लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली।पुलिस ने यह जानकारी दी।पुलिस के अनुसार उन्नाव जिले के मगरवारा की रहने वाली सुदामा (32) को रविवार को नवाबगंज पुलिस थाने में चोरी के एक मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया था।

महिला घरेलू सहायिका के तौर पर एक घर में काम करती थी जहां वह आभूषणों की चोरी के मामले में संदिग्ध थी।नवाबगंज पुलिस ने सुदामा को राजकीय आशा ज्योति आश्रय गृह में दाखिल किया था। उसे सोमवार को फिर से पुलिस के सामने पेश होने का निर्देश दिया था।कानपुर के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त पश्चिम ब्रजेश श्रीवास्तव ने बताया कि रहस्यमय परिस्थिति में महिला की मौत की जांच शुरू कर दी गई है।

उन्होंने बताया कि महिला का पोस्टमार्टम तीन चिकित्सकों के पैनल द्वारा किया गया है और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई है। उन्होंने बताया कि विसरा भी सुरक्षित रखा गया है और मामले की जांच के आदेश दे दिये गये हैं।(भाषा)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...