महिला सशक्तीकरण का प्रतीक है तीन करोड़ से ज्यादा आवासों का बनना: नरेंद्र मोदी

Share News

@ नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अब तक तीन करोड़ से अधिक आवासों का निर्माण पूरा किया जा चुका है और मूलभूत सुविधाओं से युक्त ये आवास आज महिला सशक्तीकरण का प्रतीक बन चुके हैं।केंद्र सरकार ने वर्ष 2022 तक बुनियादी सुविधाओं के साथ सभी को आवास प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी की शुरुआत जून 2015 में हुई थी जबकि प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण नवंबर 2016 में शुरू की गई।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया देश के हर गरीब को पक्का मकान देने के संकल्प में हमने एक अहम पड़ाव तय कर लिया है।जन-जन की भागीदारी से ही तीन करोड़ से ज्यादा घरों का निर्माण संभव हो पाया है।मूलभूत सुविधाओं से युक्त ये घर आज महिला सशक्तिकरण का प्रतीक भी बन चुके हैं।

इस ट्वीट के साथ उन्होंने इन योजनाओं से संबंधित एक ब्योरा भी साझा किया।इसके मुताबिक प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत अब तक 2.52 करोड़ पक्के मकानों का निर्माण पूरा कर लिया गया है जबकि प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के तहत 58 लाख पक्के मकान का निर्माण पूरा हो चुका है।

इन योजनाओं की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इसमें घर की महिला सदस्य के नाम पर या संयुक्त स्वामित्व का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि हर घर में शौचालय रसोई बिजली और पानी की सुविधा भी प्रदान की गई है।ज्ञात हो कि भारतीय जनता पार्टी सात अप्रैल से 20 अप्रैल तक सामाजिक न्याय पखवाड़ा मना रही है। इसके तहत पार्टी ने प्रत्येक दिन एक या दो केंद्रीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार करना तय किया है।पार्टी ने 8 अप्रैल का दिन पीएम आवास योजना के लिए समर्पित किया है।(भाषा) 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...