मुख्यमंत्री महाकाल लोक की लोकार्पण आयोजक समिति की बैठक में हुए शामिल

Share News

@ भोपाल मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को उज्जैन में महाकाल लोक की लोकार्पण आयोजक समिति की बैठक में शामिल हुए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हम सबके लिये अत्यन्त गौरव और प्रसन्नता के क्षण हैं कि आज महाकाल लोक के लोकार्पण की आयोजन समिति की पहली बैठक हो रही है। उन्होंने कहा कि महाकाल मन्दिर परिसर विस्तार योजना के विकास कार्य दो चरणों में किये जाने हैं। इन दोनों चरणों में 800 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्य और सौंदर्यीकरण कार्य किये जायेंगे। प्रथम चरण के कार्यों का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 अक्टूबर को करेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि महाकाल लोक का लोकार्पण कार्यक्रम सबका आयोजन है। यह समाज को जोड़ने का आयोजन है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि उज्जैन में विकास के कई कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि महाकाल मन्दिर में आने वाले भक्तों को दर्शन के बाद ऐसी संरचनाएँ देखने को मिलें, जिसमें शिवलोक के दर्शन हो। इसी दृष्टि से महाकाल परिसर को विस्तारित किया जा रहा है। इसकी रूपरेखा पूर्व में ही बना ली गई थी। सभी वर्गों से विचार-विमर्श के बाद पहले चरण की कार्य-योजना साकार रूप ले चुकी है, जिसे अक्टूबर माह में लोकार्पित किया जायेगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि महाकाल कॉरिडोर का नाम सबकी सहमति से महाकाल लोक कर दिया गया है। आज उज्जैन में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में लिये गये प्रमुख निर्णयों की जानकारी समिति सदस्यों को दी गई। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि दताना स्थित हवाई पट्टी का विस्तारीकरण किया जायेगा। शिप्रा नदी को स्वच्छ और सदैव प्रवाहमान बनाये रखने के लिये सीवरेज के पानी को डायवर्ट किया जायेगा। इसके अलावा भगवान महाकालेश्वर की सवारी में चलने वाले पुलिस बैण्ड का विस्तार किया जायेगा। इसमें और सदस्यों को जोड़ा जायेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने सन्तजन तथा उपस्थित आमजन से लोकार्पण समारोह के सम्बन्ध में आवश्यक सुझाव भी लिये।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि उन्हें सिंहस्थ का समय याद आ रहा है। उस समय यह विचार आया था कि महाकाल महाराज मन्दिर विस्तारीकरण योजना बना कर महाराजवाड़ा को हैरिटेज होटल के रूप में विकसित करने, रूद्र सागर के सौंदर्यीकरण, हॉकर्स झोन विकसित करने, रूद्र सागर के पश्चिमी मार्ग का विस्तारीकरण करने और अन्य महत्वपूर्ण कार्य किये जायें।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि महाकाल लोक का लोकार्पण कार्यक्रम सबका आयोजन है। विभिन्न समाज, वर्ग और धर्म के लोग इससे जुड़ें और अपनी ओर से आवश्यक योगदान दें। इसी उद्देश्य से लोकार्पण के आयोजन समिति बनाई गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्यक्रम को भव्यता प्रदान करने के लिये आज हुई बैठक में सभी से आवश्यक सुझाव प्राप्त कर उन पर विचार किया जायेगा। लोकार्पण के पूर्व उत्सव का एक वातावरण निर्मित होगा। विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन 5 अक्टूबर से प्रारंभ हो जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...