पेजयल समस्याओं का त्वरित निराकरण कर जन-सुविधा बहाल करायें : बृजेन्द्र सिंह यादव

Share News

@ भोपाल मध्यप्रदेश

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने जल जीवन मिशन की प्रगति और ग्रीष्म ऋतु में ग्रामीण पेयजल व्यवस्था के संबंध में भोपाल-नर्मदापुरम परिक्षेत्र के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि मिशन में समय-सीमा में लक्ष्य की पूर्ति आवश्यक है, जिससे ग्रामीण परिवारों को उसका लाभ समय पर मिल सके। उन्होंने कहा कि गर्मी के इस मौसम में हमारे विभाग की जिम्मेदारी और भी बढ़ गई है, सभी अधिकारी पूरी निष्ठा और लगन से अपने कर्त्तव्यों को अंजाम दें।

यादव ने कहा कि समस्याएँ आती हैं और आयेंगी, हमारा कर्त्तव्य उनका त्वरित निराकरण कर जन-सुविधाओं को बहाल करना है, इसे सभी जिम्मेदारी के साथ पूरा करें।राज्य मंत्री यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आमजन की पेयजल व्यवस्था के लिये रात्रि 11 बजे तक ग्रामों का भ्रमण और प्रात: 6 बजे अधिकारियों की बैठक ले रहे हैं।

इस स्थिति में हमारा कर्त्तव्य भी बनता है कि पूरी टीम भावना के साथ अपने कर्त्तव्यों का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन और अन्य पेयजल संसाधनों की व्यवस्था के लिये पर्याप्त धन राशि की उपलब्धता अपने आप में राज्य सरकार की अच्छी मंशा का प्रमाण है।

राज्य मंत्री यादव ने ग्रामीण क्षेत्र में जहाँ भी आवश्यकता हो, नल-कूप और हेण्ड-पम्प का खनन करवाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि हर समय कार्य की गुणवत्ता और तत्परता का ध्यान रखें, ताकि आम आदमी को जल्दी और लम्बे समय तक पेयजल सुविधा का लाभ प्राप्त होता रहे। राज्य मंत्री ने कहा कि मिशन में अपेक्षित और शर्तों के अनुकूल परिणाम नहीं देने वाली संस्थाओं के विरूद्ध कार्रवाई की जाये, जिससे अनावश्यक विलम्ब से बचा जा सके।

अपर मुख्य सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मलय वास्तव ने कहा कि निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध प्रगति काफी धीमी है। सभी अधिकारी कार्य-स्थल का नियमित निरीक्षण और भ्रमण करें, जिससे अपेक्षित प्रगति हो सके। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन में रेट्रोफिटिंग कार्यों को पूर्ण करने की समय-सीमा 30 सितम्बर निर्धारित है। सभी अधिकारी इस समयावधि में कार्य पूरे करें।

उन्होंने कहा कि आमजन की अपेक्षा में हमें खरा उतरने के लिये बेहतर और शीघ्र परिणाम देना होंगे। वास्तव ने कहा कि शासकीय सेवक द्वारा अपने कर्त्तव्यों के प्रति की गई कोताही अथवा लापरवाही पर अब कड़ी कार्रवाई की जायेगी। प्रबंध संचालक जल निगम तेजस्वी एस. नायक ने सीएम हेल्पलाइन में आने वाली शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिये की गई व्यवस्थाओं की जानकारी दी।

राज्य मंत्री यादव ने परिक्षेत्र के अधिकारियों से वन-टू-वन चर्चा कर मिशन की प्रगति और ग्रामीण क्षेत्र की वर्तमान पेयजल व्यवस्था के संबंध में जानकारी प्राप्त कर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...