प्रमुख सचिव ने ग्रामीणों को बताया अमृत सरोवर का महत्व

Share News

@ भोपाल मध्यप्रदेश

प्रमुख सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास उमाकांत उमराव ने सीहोर जिले के ग्राम बड़नागर एवं ढाबलामाता में प्रगतिरत अमृत सरोवर का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्रामीणों के साथ संवाद करते हुए वर्षा जल को संरक्षित करने अमृत सरोवर की उपयोगिता बताई और जन-भागीदारी के लिए प्रेरित किया।

उन्होंने कहा कि गाँव-गाँव में बनाये जा रहे सरोवर से क्षेत्र की तस्वीर भी बदलेगी और भू-जल स्तर बढ़ेगा। उमराव ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के आहवान पर प्रदेश के हर जिले में अमृत सरोवर बनाये जा रहे हैं।ग्रामीण जन इस शुभ कार्य में सहभागी बने।

 मनरेगा एकीकृत पार्क का निरीक्षण

प्रमुख सचिव उमराव ने भाऊखेड़ी में आजीविका एकीकृत पार्क का निरीक्षण भी किया। उन्होंने समूह की महिलाओं से चर्चा की और उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की।प्रमुख सचिव उमराव को जिला पंचायत सीईओ हर्ष सिंह ने बताया कि स्व-सहायता समूह की 184 महिलाओं की स्थाई आजीविका विकसित करने के लिए मनरेगा आजीविका एकीकृत पार्क में 17 प्रकार की गतिविधियाँ संचालित की जा रही है।

आजीविका पार्क में गौशाला चारागाह, सामुदायिक पोषण वाटिका, तुलसी कानन, सामुदायिक पौध-रोपण, मछली तालाब, पोखर, निर्मल नीर, देवारण्य उपयोजना में औषधि पौधों का रोपण, सीएलएफ एवं सामुदायिक स्वच्छता परिसर का निर्माण किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...