परशुराम जन्मोत्सव में शामिल हुए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री

Share News

@ जयपुर राजस्थान

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने अलवर की मुण्डावर तहसील स्थित स्वामी शीतलदास आश्रम रैणागिरी धाम में चल रहे पंच दिवसीय भगवान परशुराम जन्मोत्सव के दूसरे दिन के कार्यक्रमों की विधिवत शुरुआत मंत्रोच्चार एवं आरती कर की।
 
जूली एवं उनकी धर्मपत्नी गीता जूली ने पूजा-अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली एवं सुख-समृद्धि की कामना की।उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि भगवान परशुराम के बताए मार्ग पर चलकर सामाजिक सद्भाव को कायम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि ऎतिहासिक तपोस्थली रैणागिरी अध्यात्म का प्रमुख केन्द्र है। उन्होंने आश्रम की सेवा समिति द्वारा जनकल्याण के लिए की जा रही गतिविधियों के लिए साधुवाद दिया।
 
बीसूका के जिला उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा ने कहा कि भारतीय संस्कृति सर्वे भवन्तु सुखिन सर्वे संतु निरामया की है यह संस्कृति इस आश्रम में प्रत्यक्ष रूप से नजर आती है।आश्रम के जगद्गुरु बालकाचार्य जी बेनामी ने सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। जन्मोत्सव के दूसरे दिन हवन, यज्ञ, गौसेवा आदि के कार्यक्रम आयोजित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...