शेल 1.55 अरब डॉलर में भारत के स्प्रिंग एनर्जी समूह का करेगी अधिग्रहण

Share News

@ नई दिल्ली

अमेरिकी ऊर्जा कंपनी शेल पीएलसी के पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी इकाई शेल ओवरसीज इंवेस्टमेंट ने 1.55 अरब डॉलर में सोलएनर्जी पावर प्राइवेट लिमिटेड के सौ फीसदी अधिग्रहण के लिए एक्टिस सोलएनर्जी लिमिटेड के साथ समझौता किया है।सोलएनर्जी पावर प्राइवेट लिमिटेड मॉरीशस में गठित कंपनी है और भारत में कारोबार करने वाली स्प्रिंग एनर्जी ग्रुप ऑफ कंपनीज की प्रत्यक्ष शेयरधारक है।

महाराष्ट्र के पुणे में स्प्रिंग एनर्जी का मुख्यालय है। यह अधिग्रहण के बाद भी अपने मौजूदा ब्रांड को बरकरार रखेगी और शेल समूह की पूर्ण-स्वामित्व वाली अनुषंगी के तौर पर काम करेगी। इसका नियंत्रण शेल के रिन्यूएबल्स एंड एनर्जी सॉल्यूशंस इंटिग्रेटेड पावर के पास होगा।यह लेनदेन नियामकीय मंजूरी के अधीन है और इस साल के अंत तक इसके पूरा हो जाने की उम्मीद है।

शेल के इंटीग्रेटेड गैस रिन्यूएबल्स और एनर्जी सॉल्यूशंस के निदेशक वॉल सैवन ने शुक्रवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में इस अधिग्रहण सौदे की जानकारी दी।उन्होंने कहा यह सौदा शेल को भारत में वास्तव में एकीकृत ऊर्जा अंतरण कारोबार करने वाली शुरुआती कंपनियों में से एक के रूप में स्थापित करता है।सैवन ने कहा स्प्रिंग एनर्जी के पास एक शानदार टीम मजबूत एवं स्थापित ट्रैक रिकॉर्ड और एक स्वस्थ विकास पाइपलाइन है।

स्प्रिंग एनर्जी की ताकत शेल इंडिया के समृद्ध ग्राहक-उन्मुख गैस एवं डाउनस्ट्रीम व्यवसायों के साथ मिलकर विकास के और भी अधिक अवसर पैदा कर सकती है।विज्ञप्ति के अनुसार इस अधिग्रहण सौदे के जरिये शेल को हासिल हो(भाषा)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...