शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण करें निराकरण: शिवराज सिंह चौहान

Share News

@ भोपाल मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि आमजन की शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें।सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों को आवेदक की बिना संतुष्टि के फोर्स क्लोज नहीं किया जाये।मुख्यमंत्री चौहान आज मंत्रालय में समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संबोधित कर रहे थे। पुलिस महानिदेशक सुधीर कुमार सक्सेना, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री मनीष रस्तोगी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने हरदा जिले के अर्जुन सूरमा के प्रकरण में प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मलय वास्तव से नल- जल योजना के कार्य में विलम्ब होने की जानकारी ली। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रकरण में तत्कालीन सब इंजीनियर ज्योति महोबिया और कार्यपालन यंत्री एस. के. पवार को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधित ठेकेदार को ब्लेक लिस्टेड करने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि बिना सोर्स के कोई भी नल- जल योजना स्वीकृत नहीं की जाए।मुख्यमंत्री चौहान ने शिवपुरी जिले की सु मालती कुशवाहा के प्रकरण में राशि भुगतान में विलम्ब होने पर कहा कि पति की मृत्यु होने पर आवेदिका को समय पर राशि दी जाये।उन्होंने कहा कि ऐसे जितने भी प्रकरण हैं,उनमें शीघ्रता से कार्यवाही कर समय पर राशि दी जाये। प्रमुख सचिव श्रम को इस संबंध में आवश्यक निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोई भी कल्याणी बहन को पैसों के लिए भटकना नहीं पड़े। उन्होंने आवेदिका को दो लाख रुपये की सहायता राशि, प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने एवं मानवीय दृष्टिकोण रखते हुए कलेक्टर को पूरी सहायता करने के निर्देश दिए।उन्होंने नगर परिषद में कार्य दिलाने के लिए भी कहा।मुख्यमंत्री चौहान ने सीएम हेल्प लाइन के प्रकरणों में अच्छी उपलब्धि वाले विभागों एवं अधिकारियों की सराहना की।

उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए त्वरित गति से पीएचई विभाग द्वारा पेयजल संबंधी समस्याओं का निराकरण किया जाये। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण में कम प्रगति वाले जिलों को मेहनत कर प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने रीवा, पन्ना, दमोह, अशोकनगर, कलेक्टर को शिकायतों के निराकरण की प्रगति बढ़ाने के आवश्यक निर्देश दिए।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश गुड गवर्नेंस की दिशा में आगे बढ़ रहा है। शिकायतों का निराकरण तत्परता से करना गुड गवर्नेंस का ही हिस्सा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...