यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का एकल लाभ आठ प्रतिशत बढ़कर 1,440 करोड़ रुपये पर

Share News

@ नई दिल्ली

सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 की जनवरी-मार्च तिमाही में एकल आधार पर उसका शुद्ध लाभ आठ प्रतिशत बढ़कर 1,440 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

यूनियन बैंक ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 की समान तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 1,330 करोड़ रुपये रहा था।वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में बैंक की कुल आय बढ़कर 20,417.44 करोड़ रुपये पर पहुंच गई जो इससे एक साल पहले की समान अवधि में 19,804.91 करोड़ रुपये थी।

बैंक का बीते पूरे वित्त वर्ष के लिए एकल आधार पर शुद्ध लाभ 80 प्रतिशत बढ़कर 5,232 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वित्त वर्ष 2020-21 में उसका शुद्ध लाभ 2,906 करोड़ रुपये रहा था।हालांकि 31 मार्च 2022 को समाप्त वित्त वर्ष में बैंक की कुल आय मामूली गिरावट के साथ 80,468.77 करोड़ रुपये रही जबकि एक साल पहले यह 80,511.83 करोड़ रुपये रही थी।

वित्त वर्ष 2021-22 में बैंक की सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्तियां सकल अग्रिम के 11.11 प्रतिशत पर रहीं जबकि इससे एक साल पहले इसी अवधि में यह 13.74 प्रतिशत था।मूल्य के संदर्भ में बीती तिमाही में बैंक का सकल एनपीए 79,587.07 करोड़ रुपये रहा जो वित्त वर्ष 2020-21 की समान अवधि में 89,788.20 करोड़ रुपये रहा था।

वित्त वर्ष 2021-22 की मार्च तिमाही में एकीकृत आधार पर बैंक का शुद्ध लाभ लगभग 23 प्रतिशत बढ़कर 1,557 करोड़ रुपये पर पहुंच गया जबकि इससे एक साल पहले की समान अवधि में यह 1,269 करोड़ रुपये रहा था।हालांकि उसकी कुल आय 20,681.40 करोड़ रुपये से घटकर 19,353.85 करोड़ रुपये रह गयी।इस बीच यूनियन बैंक के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 1.90 रुपये प्रति इक्विटी शेयर का लाभांश देने की सिफारिश की है।(भाषा)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...