भारत के 53वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 20-28 नवंबर 2022 के दौरान गोवा में होगा

Share News

@ नई दिल्ली

सिनेमा के आनंद का उत्सव मनाने के लिए गोवा में 20-28 नवंबर 2022 के दौरान 53वां आईएफएफआई आयोजित होने वाला हैइसके अपडेट्स को वेबसाइट www.iffigoa.org पर देखा जा सकता है

इस महोत्सव का उद्देश्य दुनिया भर के फिल्म निर्माताओं को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने और सिनेमा की उत्कृष्टता को सामने लाने के लिए एक साझा मंच प्रदान करना है। फिल्म संस्कृतियों को एक साथ लाते हुए, यह महोत्सव विभिन्न सामाजिक और सांस्कृतिक लोकाचार की समझ और विश्व सिनेमा की सराहना को स्वीकृति देता है। इस महोत्सव का आयोजन फिल्म समारोह निदेशालय (सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के तहत) और गोवा राज्य सरकार द्वारा संयुक्त रूप किया जाता है।

फिल्म कला की उत्कृष्टता को प्रदर्शित करने के लिए दुनिया के सिनेमाघरों को एक साझा मंच प्रदान करने के उद्देश्य से, आईएफएफआई भारत और दुनिया भर से हर वर्ष कुछ बेहतरीन सिनेमा से जुड़ी गतिविधियों का उत्सव मनाता है। इस वर्ष के 53वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के आयोजन के लिए एक संचालन समिति का गठन किया गया है जिसका उल्लेख नीचे किया गया है।

संचालन समिति का कार्य आईएफएफआई प्रोग्रामिंग को अंतिम रूप देने के लिए मंत्रालय का समर्थन करना है जिसमें आईएफएफआई कार्यक्रम के विभिन्न वर्गों, मास्टर कक्षाओं और कार्यशालाओं, सांस्कृतिक घटकों को अंतिम रूप देना शामिल है।

संचालन समिति ने आईएफएफआई के विभिन्न घटकों पर विचार-विमर्श किया और अंतर्राष्ट्रीय फिल्म निर्माताओं के साथ सहयोग बढ़ाने, क्षेत्रीय सिनेमा की भागीदारी, युवा फिल्म निर्माताओं को एक मंच देने के साथ-साथ सिनेमा प्रेमियों के अनुभव को बढ़ाने वाली उभरती तकनीक के साथ सिनेमा में नए रुझानों को प्रदर्शित करने के तरीकों पर भी चर्चा की। संचालन समिति आईएफएफआई के लिए कई बैठकों का आयोजन करेगी और सामग्री की अवधि पर विचार करते हुए साझेदारी की तलाश करेगी। केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि आईएफएफआई के लिए उनका दृष्टिकोण भारतीय सिनेमा से जुड़ी फिल्म बिरादरी के साथ मिलकर कार्य करना है और 53वें आईएफएफआई को अगले स्तर पर ले जाने के लिए उनकी विशेषज्ञता और ज्ञान का उपयोग करना है। उन्होंने कहा कि आईएफएफआई एक ऐसा महोत्सव है जिसका उद्देश्य भारत की ‘रचनात्मक अर्थव्यवस्था’ को बढ़ावा देने के लिए सहयोग और नेटवर्किंग प्रदान करके फिल्म उद्योग के लाभ के लिए सिनेमा के व्यवसाय को बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा कि रचनात्मक अर्थव्यवस्था में एम एंड ई क्षेत्र में नए उद्यमी बनाने की क्षमता और प्रतिभा है जो भारत को दुनिया के लिए एक सामग्री और पोस्ट प्रोडक्शन हब के तौर पर बदलने में मदद करेगी।

संचालन समिति के सदस्य हैं:

आधिकारिक सदस्य

  1. सूचना और प्रसारण एवं युवा कार्य और खेल मंत्री (अध्यक्ष)
  2. गोवा के मुख्यमंत्री (सह-अध्यक्ष)
  3. सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री
  4. सचिव, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
  5. मुख्य सचिव, गोवा सरकार
  6. अपर सचिव एवं एफए, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
  7. अपर सचिव, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
  8. संयुक्त सचिव (फिल्म), सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
  9. प्रधान महानिदेशक, पीआईबी
  10. प्रबंध निदेशक, एनएफडीसी
  11. सचिव (आई एंड पी), गोवा सरकार
  12. उपाध्यक्ष, ईएसजी, गोवा
  13. मुख्य कार्यकारी अधिकारी, ईएसजी, गोवा

गैर-सरकारी सदस्य

  1. मनोज मुंतशिर
  2. विपुल अमृतलाल शाही
  3. प्रसून जोशी
  4. प्रियदर्शन
  5. खुशबू सुंदर
  6. हर्षिता भट्ट
  7. वाणी त्रिपाठी
  8. करण जौहर
  9. सुखविंदर सिंह
  10. निखिल महाजन
  11. रवि कोट्टारकर
  12. शूजीत सरकार
  13.  बॉबी बेदी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...