मुंबई में 30 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर, 2022 के दौरान ‘पर्यटन पर्व’ का आयोजन

Share News

@ मुंबई  महाराष्ट्र

आजादी का अमृत महोत्सव के प्रतिष्ठित सप्ताह समारोह के हिस्से के रूप में, पर्यटन मंत्रालय 30 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर 2022 के दौरान मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज वास्तु संग्रहालय  में पर्यटन पर्व – 2022 का आयोजन कर रहा है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे मुख्य अतिथि होंगे और पर्यटन पर्व का उद्घाटन करेंगे। केन्द्रीय संस्कृति, पर्यटन और उत्तर पूर्व क्षेत्र विकास मंत्री जी. किशन रेड्डी इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। इस अवसर पर महाराष्ट्र सरकार के पर्यटन, कौशल विकास एवं उद्यमिता, महिला एवं बाल विकास मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा भी मौजूद रहेंगे।

पर्यटन पर्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन पर आधारित एक पहल है, जिसका उद्देश्य घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देना है। स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने तीसरे संबोधन के दौरान, प्रधानमंत्री ने सभी भारतीयों से 2022 तक पूरे भारत में कम से कम 15 पर्यटन स्थलों की यात्रा करने की अपील की थी।

मुंबई में पर्यटन पर्व का आयोजन पश्चिमी एवं मध्य क्षेत्र के राज्यों और एक केन्द्र – शासित प्रदेश – महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ तथा दादरा एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव – की विविध संस्कृति, कला, शिल्प एवं व्यंजनों को प्रदर्शित करने के लिए किया जा रहा है। यह आयोजन इस क्षेत्र की समृद्ध विरासत और संस्कृति के बारे में मुंबईकरों की समझ को भी बेहतर करेगा। इस आयोजन को भारत के विभिन्न पर्यटन उत्पादों, व्यजनों, विरासत और संस्कृति के बारे में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से बढ़ावा दिया जाता है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय, रक्षा, आयुष, कपड़ा आदि जैसे अन्य केन्द्रीय मंत्रालय भी इस आयोजन में भाग ले रहे हैं।

पर्यटन पर्व विशेष रूप से युवाओं को जागरूक करने के लिए घरेलू पर्यटकों पर ध्यान केन्द्रित करेगा। इस वर्ष पर्यटन पर्व में भाग लेने के लिए विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों के युवा पर्यटन क्लब के सदस्यों को आमंत्रित किया जाएगा।

मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज वास्तु संग्रहालय में 30 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर, 2022 के दौरान आयोजित इस कार्यक्रम की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • पश्चिमी एवं मध्य क्षेत्र के आठ राज्यों के पर्यटन विभागों और मुंबई में मौजूद अन्य राज्यों के पर्यटन कार्यालयों के पर्यटन मंडप।
  • भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय के केन्द्रीय संचार ब्यूरो द्वारा भारत की आजादी के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव के बारे में मल्टीमीडिया प्रदर्शनी।
  • किचन स्टूडियो – होटल प्रबंधन संस्थान, मुंबई द्वारा पश्चिम – मध्य मिलाप विषय के तहत इस क्षेत्र के व्यंजनों का प्रदर्शन।
  • विकास आयुक्त, हस्तशिल्प, कपड़ा मंत्रालय द्वारा आमंत्रित पश्चिमी एवं मध्य क्षेत्र के पांच राज्यों तथा एक केन्द्र – शासित प्रदेश के कारीगरों द्वारा लगाए गए 15 हस्तशिल्प स्टालों के साथ शिल्प बाजार।
  • केन्द्रीय मंच पर देश भर की लोक कलाओं को प्रदर्शित करने वाले विभिन्न सांस्कृतिक प्रदर्शन।
  • आयुर्वेद@2047 विषय पर आयुष मंत्रालय का स्टॉल।
  • अग्निपथ योजना को बढ़ावा देने के लिए भारतीय वायु सेना के भर्ती कार्यालय, मुंबई द्वारा स्टाल।
  • क्षेत्रीय स्तर के पर्यटक गाइडों के मुफ्त निर्देशन में छत्रपति शिवाजी महाराज वास्तु संग्रहालय और उसके आसपास के आकर्षणों को कवर करते हुए पैदल यात्राएं।
  • कला से संबंधित कार्यशाला और स्कूली बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं।
  • आगंतुकों को बांधे रखने के उद्देश्य से अन्य संवादात्मक गतिविधियां।

यह कार्यक्रम आम जनता के लिए सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक तीन दिनों के लिए खुला है और इसमें प्रवेश निःशुल्क है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...