राजभाषा हिन्दी का प्रयोग गर्व से करना चाहिए : डॉ मनोज कुमार

Share News

@ सिद्धार्थ पाण्डेय गुवा/ जमशेदपुझारखंड 

राजभाषा हिंदी परववाड़ा कार्यक्रम के तहत डीएवी पब्लिक स्कूल गुआ में बच्चों को विद्यालय के प्रार्थना सभा में हिंदी भाषा के प्रयोग के प्रति स्कूल के प्राचार्य डॉ मनोज कुमार ने सारगर्भित विचार दिए ।स्कूल के प्राचार्य डॉ मनोज कुमार ने कहा कि राजभाषा हिन्दी का प्रयोग गर्व से करना चाहिए।

यह देश की एकता और अखंडता का प्रतीक है, जब तक वे हिंदी का पूरी तरह से उपयोग नहीं करेंगे, तब तक हिंदी भाषा का विकास नहीं हो सकता।प्राचार्य डा मनोज कुमार ने कहा की सभी को एकजुट होकर हिंदी के विकास को एक नए आयाम पर लाना होगा। हिंदी भाषा के विकास और विलुप्त होने को रोकने के लिए यह आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि हर कोई जानता है कि कैसे भारत में हिंदी अपना अस्तित्व खो रही है। हिंदी को अंग्रेजी में मिलाकर हिंदी बोलने का चलन जोरों पर है। हिंदी के गिरते स्तर को बढ़ाने और फैलाने के लिए हर साल 14 सितंबर से हिंदी सप्ताह मनाया जाता है।

एक सप्ताह तक चलने वाले इस सप्ताह में हिन्दी का जोर-शोर से प्रचार-प्रसार करना चाहिए ताकि हिन्दी को जीवित रखा जा सके। इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षकों के द्वारा बच्चों को हिंदी के प्रयोग के प्रति मार्गदर्शक किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...