RINL की नवाचार और स्टार्टअप कार्यों को बढ़ावा देने की पहल

Share News

@ नई दिल्ली

RINL और विशाखापत्तनम तथा उसके आसपास के अन्य उद्योगों के लिए नवाचार और स्टार्टअप कार्यों को बढ़ावा देने के लिए उद्योग 4.0 सीओई (कल्पतरु) के लिए एसटीपीआई, एसटीपीआईएनईएक्‍सटी और RINL -वीएसपी (विशाखापत्तनम स्टील प्लांट) के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। विशाखापत्तनम स्टील प्लांट में आज आयोजित एक समारोह में RINL के सीएमडी अतुल भट्ट और एसटीपीआई के निदेशक डॉ. सीवीडी राम प्रसाद के बीच समझौता ज्ञापन का आदान-प्रदान किया गया।

इस अवसर पर RINL के सीएमडी और सीओई के मुख्य सलाहकार अतुल भट्ट ने कहा कि उत्कृष्टता केन्द्र (सीओई) की स्थापना समय की आवश्यकता है और यह उद्योग और शैक्षणिक समुदाय के लिए सूचना प्रदान करने और प्राप्‍त करने का एक उदाहरण बन जाएगा जहां हर कोई एक समाधान लेकर आएगा जो देश को लाभान्वित करेगा और इस्पात उद्योग में डिजिटलीकरण में एक राष्ट्रव्यापी आंदोलन की शुरुआत करेगा।

समझौता ज्ञापन का प्राथमिक उद्देश्य विशाखापत्तनम में स्टार्टअप-इकोसिस्‍टम को सहयोग करने के लिए एसटीपीआई, एसटीपीआईएनएक्सटी और RINL के बीच मजबूत और सार्थक गठबंधन बनाना है। यह इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय, भारत सरकार (एमईआईटीवाई), RINL और आंध्र प्रदेश सरकार के वित्त पोषण के समर्थन से स्थापित किया जा रहा है।

उद्योग 4.0 पर सीओई उत्पादन, उत्पादकता और सुरक्षा में सुधार के माध्यम से RINL को लाभान्वित करेगा। सीओई द्वारा पेश किए गए समाधान संयंत्र और मशीनरी के समग्र उपकरण प्रभावशीलता में भी सहायता करेंगे, संरचनाओं की सेहत की निगरानी, औद्योगिक प्रदूषण का पता लगाने और उसे कम करने में मदद करेंगे।

समझौता ज्ञापन में परामर्श, बुनियादी ढांचे और सुविधाओं तक पहुंच, नेटवर्किंग और वित्त पोषण में एक मजबूत सहयोग की परिकल्पना है। एसटीपीआई और एसटीपीआईएनएक्सटी और RINL नवोदित स्टार्ट-अप कंपनियों को उद्योग 4.0 के क्षेत्र में विश्व स्तर के उत्पाद बनाने में सक्षम करेंगे। इसकी 5 वर्षों की अवधि में लगभग 50 स्टार्ट-अप को फिजिकल मोड में और 125 स्टार्ट-अप को वर्चुअल मोड में इनक्यूबेट करने की योजना है। वर्तमान समझौता ज्ञापन पर 3 वर्षों की अवधि के लिए हस्ताक्षर किए जा रहे हैं।

सीओई (कल्पतरु) राज्य में अनुसंधान एवं विकास, नवाचार, उत्पाद विकास, उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के लिए स्टार्टअप को बढ़ावा देने और एक समग्र पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए आवश्यक पारिस्थितिकी तंत्र के साथ उद्योग 4.0 के क्षेत्र में काम करने के लिए अपनी तरह का अनूठा है। डिजिटलीकरण अभियान में उत्प्रेरक सुधार प्रदान करने और RINL में उद्योग 4.0 मानकों के कार्यान्वयन के लिए समझौता ज्ञापन की परिकल्पना की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...