विकास कार्यों में तेजी लाए व आमजन की परिवेदनाओं का त्वरित निस्तारण करें : टीकाराम जूली

Share News

@ जयपुर राजस्थान

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि अलवर जिले में विकास कार्यों को गति देवे तथा जन समस्याओं का त्वरित निराकरण करे।

मंत्री जूली की अध्यक्षता में बुधवार को कलक्टे्रट सभागार में विभागीय अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई। उन्होंने विभाग की समीक्षा कर कहा कि जिले में विभाग द्वारा सामाजिक न्याय की योजनाओं का संचालन सुगमता से हो रहा है। उन्होंने जिले के नवाचार सक्षम अलवर अभियान को दिव्यांगजनों के साथ आमजन के लिए बहुपयोगी बताया।

उन्होंने पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक को निर्देश दिये कि जिले में लम्पी स्किन डिजीज की प्रभावी रोकथाम के लिए फील्ड में आवश्यक सभी गतिविधियां करावे। संक्रमित गायों को पृथक से रखवाए। दवाइयों व वैक्सीन की आपूर्ति किसी भी प्रकार से बाधित नहीं होनी चाहिए।

संक्रमित पशुओं के उपचार में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरते। उन्होंने निर्देश दिये कि संक्रमित मृत पशु का साइंटिफिक निस्तारण सुनिश्चित करावे। आयुर्वेद विभाग व आमजन का सहयोग लेकर औषधीय लड्डू गौवंश को खिलवाए। उन्होंने निर्देश दिये कि जिले में सभी ब्लॉकों में नन्दी गौशालाएं खुलवाई जानी है इसके लिए जमीन आदि के प्रस्ताव राज्य सरकार को भिजवाए। उन्होंने कहा कि स्वयं की विधायक निधि से लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम हेतु 10 लाख रूपये व पशुओं के लिए एम्बुलेंस के लिए 15 लाख रूपये स्वीकृत किए है।

उन्होंने कृषि विभाग व बीमा कम्पनी के अधिकारियों को निर्देश दिये कि बारिश से खराब हुई फसल के मुआवजे हेतु किसानों की सूचना, कृषि विभाग व बैंकों के द्वारा दी गई ऑफलाइन सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए सर्वे कार्य पूरा कर किसानों को मुआवजा वितरित करावे। उन्होंने निर्देश दिये कि अतिवृष्टि के कारण मकान गिरने व क्षतिग्रस्त होने की रिपोर्ट तहसीलदारों से यथाशीघ्र मंगवाकर उनको सहायता राशि जारी करे। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि बजट घोषणा में स्वीकृत शेष रही सभी सड़कों का निर्माण कार्य तेज गति से करावे।

क्षतिग्रस्त सडकों के निर्माण व पेचवर्क का कार्य भी त्वरित गति से कराया जाए। साथ ही उन्होंने निर्देश दिये कि अलवर शहर से बाहर जाने वाली सडकों को 15 किलो मीटर तक फोरलेन बनाने के प्रस्ताव विभाग को भिजवाए। उन्होंने निर्देश दिये कि अलवर जिले में बनने वाली सडकों की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखे। साथ ही मनरेगा से सडकों के किनारे पटरी का निर्माण कार्य कराया जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि जिन स्कूलों में खेल मैदान के लिए जमीन नहीं है वहां भूमि आवंटित करावे। साथ मनरेगा से सभी स्कूलों में खेल मैदान विकसित करावे। स्कूलों के उपर से गुजरने वाली विद्युत लाइन को शिफ्ट करावे।

अलवर जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने जिले में विभागों के माध्यम से कराई जा रही गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। साथ ही उन्होंने विश्वास दिलाया कि बैठक में दिए गए निर्देशों की पालना संबंधित विभागों से कराई जाएगी। बैठक में जिला बीसूका उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा, एडीएम द्वितीय वन्दना खोरवाल, एडीएम शहर ओ.पी सहारण सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
track image
Loading...